Mon - Sat: 10:00AM - 6:30PM

देश की सफल और प्रभावशाली Female Entrepreneur


पैसा कमाना सिर्फ पुरूषों के हिस्से का काम नहीं रहा अब महिलाएं भी अपना ओहदा और कार्यक्षेत्र बढ़ा रही हैं। हमारा देश अब वो देश नहीं रहा, जहां पैसा कमाना एक तरह से पुरूषों के नाम हो गया हो। आज देश की महिलाएं हर क्षेत्र में आगे आ रही है- चाहे खेल हो, युद्धक्षेत्र हो, समाजिक कार्य हो, बिजनेस हो या फिर इन्टप्रोन्योर्शिप हो।

हर जगह महिलाएं बढ़ चढ़कर कदम उठा रही है। महिलाएं खुलकर Entrepreneur बन रही है, खुद की कंपनी बना रही है और देश ही नहीं विदेशों में भी Successful और Powerful बन रही है। एक रिपोर्ट के मुताबिक देश में इस समय 14% Businesses को देश की महिलाएं चला रही है। वहीं दो साल पहले ये आंकड़ा मात्र 10% ही था। ग्लोबल रिपोर्ट के मुताबिक इस समय हमारे देश में 80 लाख महिलाएं खुद का बिजनेस चलाती हैं।

तो चलिए हम भी देश की Successful & Influential Female Entrepreneurs की बात कर लेते हैं। इस लिस्ट में कई नाम शुमार हैं, जो नीचे लिखे गए हैं-

1. Indira Nooyi-  Former CEO of PepsiCo

indranoyi

63 वर्षीय इंदिरा नोई इस समय अमेजन की Board of Directors में शामिल हैं। इंदिरा नोई PepsiCo India Holding Private Limited की चेयरपरसन रह चुकी हैं। मिसेज नोई का जन्म 28 अक्टूबर 1955 में तमिलनाडु के मद्रास शहर में हुआ था। 2002 में उनकी शादी Amsoft System के President ‘Raj K nooyi’ के साथ हुई और उनकी दो बेटियां भी हैं।

उन्होंने अपना MBA- IIM Kolkata से किया और 1978 में अमेरिका की ‘Yale University’ से उन्होंने पब्लिक मैनेजमेंट का कोर्स किया। पढ़ाई के बाद उन्होंने अमेरिका में Boston Consulting Group को ज्वाइन किया था और इसके बाद उन्होंने Motorola, Asea Brown जैसी कंपनियों के महत्वपूर्ण पदों पर भी काम किया। इंदिरा नूई ने भारत में अपना कैरियर Johnson & Johnson के साथ बतौर प्रोडेक्ट मैनेजर के तौर पर शुरू किया।

1994 में वो Food & Drinking Products की दुनिया की बड़ी कंपनियों में से एक पेप्सिको से जुड़ी। 2001 में मिसेज नोई कंपनी की CFO (Chief Finance Officer) बनी और 2006 में कंपनी की CEO बन गई । 2018 में उन्होंने अपने कुछ Personal Reasons की वजह से कंपनी के CEO पद को छोड़ दिया था, इस समय भी वो PepsiCo की Board of Directors में बतौर Chairperson शामिल हैं।

2007 से लगातार फोर्ब्स की लिस्ट में 100 Powerful Women में शामिल होती रही हैं। 2007 में उन्हें भारत सरकार की तरफ से पद्म भूषण सम्मान से नवाजा गया।

2. Kiran Mazumdar Shaw- Biocon Limited Founder

kiran

किरन माजूमदार एक Selfmade Entrepreneur होने के साथ साथ एक अच्छी लेखिका भी हैं। उन्होंने ‘Ale and Arty- The Story of Beer’ नाम की एक बुक लिखी है।

किरन माजूमदार का जन्म 23 मार्च 1953 को बंगलुरू में हुआ। उन्होंने अपनी Schooling Bishop Cotton Girl’s High School बंगलुरू से पूरी की और उन्होंने 1973 में बंगलोर यूनिवर्सिटी से Zoology में Graduation की है। इसके आगे की पढ़ाई उन्होंने Australia के Ballarat University से की। वो इंडिया की पहली Brew Master बनी। 1974 में Carlton & United Beverages में Trainee Brewer के तौर पर कोलकाता और वड़ोदारा में काम करने लगी।

इसके बाद उन्होंने BIOCON- Biochemical Limited, Ireland से Collaboration किया और 1978 में Biocon India की शुरूआत की। आज उनकी कंपनी Biocon इंडिया की Pharmaceutical Companies में हाई क्लास कंपनियों में गिनी जाती है। इस समय वो कंपनी की MD और Chairperson है। शुरू में ये कंपनी सिर्फ दवाईयां बनाती थी अब कंपनी Research & Development का काम भी करती है। ये कंपनी Diabetes & Cancer जैसी बीमारियों को ठीक करने के लिए नए-नए रिसर्च करती रहती है। 1989 में Biocon इंडिया की पहली Biopharmaceutical कंपनी बनी। Biocon इंडिया की पहली कंपनी है, जिसे USFDA की तरफ से Approval मिला है, जिससे ये संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोप को दवाएं Import करने वाली इंडिया की पहली कंपनी बनी।

1998 में उनकी शादी Madura Coats के मैनेजिंग डायरेक्टर John Shaw से हुई। शादी के बाद John Shaw ने भी Biocon ज्वाइन कर लिया और इस समय कंपनी के Deputy President हैं।

किरण माजूमदार एक Philanthropist है, कैंसर जैसी बड़ी समस्याओं की दवाओं पर लगातार रिसर्च करके उन्हें सस्ते से सस्ते दाम पर बेचने की कोशिश करती हैं।

उन्हें MV Memorial Award से नवाजा गया है, ये Award- महान इंजीनियर और दार्शनिक श्री मोक्षगुंडम विश्वश्वरैय्या के सम्मान में दिया जाता है। 2005 में उन्हें पद्म भूषण सम्मान से भी नवाजा गया है।  1989 में पद्मश्री और 2002 में Healthcare & Life Science Category में Ernst & Young Entrepreneur of the year का अवार्ड मिला था। इसके साथ-साथ वो भारत सरकार के Trade & Industry Council में सदस्या भी रह चुकी हैं।

3. Indu Jain- Chairparson of Bannet, Colman Corporation

indujain

Indu Jain इस समय इंडिया की सबसे बड़े मीडिया ग्रुप Benette, Coleman & Co. ltd की Chairperson है। इंदु जैन का जन्म उत्तर प्रदेश के फैजाबाद शहर के एक जैन फैमली में हुआ और उनकी शादी अशोक जैन से हुई थी, बाद में 1999 में अशोक जैन की मृत्यु हो गई। इंदु के दो बेटे Samir Jain और Vineet Jain हैं।

इस समय Benette, Coleman & Co. ltd मीडिया ग्रुप 13 न्यूजपेपर और 18 मैगजीन पब्लिश करता है। Times Of India और The Economics Times इसी कंपनी के अंतर्गत पब्लिश होती है। आपको बता दें ‘Times Of India’ का पहला न्यूजपेपर 1838 में पब्लिश हुआ था और ये इस समय Circulation Base पर देश का तीसरा सबसे बड़ा English Newspaper है और Worldwide Circulation में पहला English newspaper है। इसी ग्रुप का ‘The Economic Times’ दुनिया का दूसरा Financial Newspaper हैं पहले नंबर पर The Wall Street Journal है।

इंदु जैन कई महिलाओं की रोल मॉडल हैं और वे महिलाओं के अधिकार के लिए काफी सक्रिय भी रहती हैं। 2016 में उन्हें भारत सरकार की तरफ से पद्म विभूषण सम्मान से नवाजा गया था। वो Art & Culture को बहुत पसंद करती है और वो FICCI की Ladies Wing की Founder President भी हैं। इसके साथ साथ वो भारतीय ज्ञानपीठ ट्रस्ट की भी Chairperson हैं,  भारतीय ज्ञानपीठ ट्रस्ट को देश में सबसे ज्यादा साहित्यिक अवार्ड (Literacy Award) मिला है। 2000 में उन्होंने Uninon Nations के Millennium World Peace Summit को संबोधित भी किया था।

Entrepreneur होने के साथ-साथ इंदु जैन और भी कई Personality अपने अंदर रखती हैं, जैसे – Spiritualist, Humanist. 2015 में इंदु जैन ने 3. 1 बिलियन डॉलर की नेटवर्थ के साथ Forbes list में 57th स्थान हासिल किया था और इंदु जैन ने The Oneness Forum को 2003 में शुरू किया था, जो कि एक Spiritual और Unity संस्था है। जिसके लिए उन्हें महात्मा- महावीर अवार्ड भी मिला।

4. Vandana Luthra- VLCC की संस्थापक

vandhnaluthra

वंदना लुथरा का जन्म कोलकाता, बेस्ट बंगाल में 1959 में हुआ था। दिल्ली के Polytechnic College ने उन्होंने अपना Graduation पूरा किया। उनके पिता एक Mechanical Engineer थे और उनकी मां आर्युवेदिक डॉक्टर थी। उनकी मां अमर ज्योति नाम का एक Organization भी चलाती थी। इस Organization से ही वंदना काफी प्रभावित हुई और उन्होंने Beauty & Wellness के बिजनेस को खोलने का लक्ष्य बना लिया।अपने इस dream को पूरा करने के लिए वो Beauty & Wellness की स्टडी करने के लिए यूरोप चली गई।

मिसेज लुथरा ने कुछ लोन लेकर VLCC - Wellness & Beauty Company को 1989 में दिल्ली में शुरू किया और आज सिर्फ अपने ही देश में VLCC के 72000 Outlets हैं। धीरे-धीरे कंपनी बढ़ी और UK, France and Germany जैसे देशों में बिजनेस करने लगी । 2005 में देश के बाहर उनका पहला VLCC Wellness Center दुबई में शुरू हुआ। इस समय VLCC दुनिया के 11 देशों में काम कर रहा है। उनकी दो बेटियां भी हैं।

उन्होंने कई खिताब अपने नाम किए हैं। 2013 में पद्मश्री सम्मान, 2015 में Fortune India की लिस्ट में देश की 33th Powerful Female Entrepreneur का खिताब हासिल हुआ। इस समय वो देश की Beauty & Wellness Sector की Skill Council की Chairperson हैं।

ऐसी और भी कई महिलाएं हैं जो देश -विदेश में बिजनेस से नाम रौशन कर रही है, जैसे- Sudha Murthy, Sairee Chahal. हमारा देश बेटियों को हमेशा आगे करता रहा है। हमारे यहां तो स्त्रियों की पूजा होती है और हमारे शास्त्रों में कहा गया है-

यत्र नार्यस्तु पूज्यते रमन्ते तत्र देवता। यानि जहां स्त्रियों की पूजा होती है, वहीं देवता का निवास होता है।

By Sonam